हलो दोस्तों, वेलकुम बैक तो मॉमी बेबी. आज हम जिस टॉपेक पर बात करेंगे वो है प्रेगनेट ना हो पाने के कारणों के बारे में. दोस्तों, क्या आप बहुत लंबे टाइम से प्रेगनेंसी ट्राइ कर रहे हैं मगर कुछ भी नहीं हो पा रहा? इसकी वज़े से आप बहुत ज़दा निराश हो गए हो,

बहुत जदा डिसस्पोइंटेट हो गए हैं कि हम इतने लंबे टाइम से प्रेगनेंसी ट्राइ कर रहे हैं मगर ये पॉस्सिबल नहीं हो पा रहा. तो सबसे पहले आज आप एक चीज़ जान लीजे कि 90% लोग एक साल या एक साल से प्रेगनेंट होने के लिए ट्राइ करते हैं उसके बाद ही वो प्रेगनेंट हो पाते हैं

तो ये कोई बहुत बड़ी बात नहीं है कि अगर आप एक साल से प्रेगनेंट होने के लिए ट्राइ कर रहे हैं प्रेगनेंट होने के लिए सिर्फ इंटर कोस ज़रूरी नहीं है प्रेगनेंट होने के लिए सही टाइम पर और सही तरीके से इंटर कोस करन वो भी हर महीने ज़रूरी है. तो अगर आपकी एज पैठीस साल से कम है और अगर आप सही तरीके से प्रेगनेंट होना ट्राइ कर रहे हैं एक साल तक उसके बाद भी कुछ नहीं हो पारा है तब आप जाके एक अच्छे डॉक्टर से मिले,

और अगर आपकी एज पैठीस साल से ज़रूरी है और आप छे महीने तक बिलकुल सही तरीके से प्रेगनेंट होने के लिए ट्राइ कर चुके है और फिर भी कुछ नहीं हो पारा तो आप एक अच्छे डॉक्टर से जाके मिले दोस्तों जल्दी प्रेगनेंट होने के तरीकों पर हमने एक विडियो बनाया है जो हमारे चानल पर है,

आप उसको जाकर देख सकते हैं उसका लिंक मैं नीचे डिस्क्रिप्षिन बॉक्स में डाल दोगी उसमें हमने किस तरीके और किस टाइमिंग पर आपको प्रेगनेंट होने के लिए ट्राइ करना चाहिए बहुत अच्छे तरीके से समझाया है उससे आपको बहुत अच्छा आइडिया मिल जाएगा कि हमें प्रेगनेंट होने के लिए किस तरीके से और किस टाइम पर ट्राइ करना चाहिए जिससे की हम जल्दी से जल्दी प्रेगनेंची अच्छीफ कर सकें

दोस्तों अब हम बात करते हैं प्रेगनेंट ना हो पाने के कारणों के बारे में सबसे पहला जो कारण आता है वो है एज़ अगर वाइफ की एज़ 35 साल से जादा है और हस्बन की एज़ 40 साल से जादा है तो आपको प्रेगनेंची अच्छीफ करने में थोड़ा जादा वक्त लग सकता है

आप सोचेंगे की मेरी एज़ 35 साल से जादा है लेकिन मुझे पीरियट बिल्कुल नॉर्मल आते हैं वाइफ की बोड़ी में जो एग यानि की जो अंडे प्रडूज होते हैं

वो उसकी क्वालिटी जो है एज़ के साथ साथ कम होती जाती है और हस्बन की बोड़ी में जो पर्म प्रडूज हो रहे हैं उसकी भी क्वालिटी जो है वो कम होती जाती है तो प्रेगनेंसी अचीफ करने के लिए अच्छी क्वालिटी का एग और अच्छी क्वालिटी का स्पर्म होना बहुत जादा जरूरी है

जो एग बड़ने के साथ कम हो जाता है जोसे प्रेगनेंसी का लग सकता है दूसरा जो कारण है वो है नो ओविलेशन दोस्तो प्रेगनेंट होने के लिए फीमेल का एग यानि की वाइफ की बॉडी का एग और हस्बिन की बॉडी का स्पर्म जो है वो बहुत जादा जरूरी है तो अगर वाइफ की बॉडी में एग यानि अंडा बन ही नहीं रहा त

कटने खिलिए तो अग्गर प्रेग्ट या प्रेग्गे का अगन नहीं है तो यानि अग्गर प्रेग्ग का एग होने के लिए विक्ष Rongeing बहुत जादा जरूरी और स्पर्म जो है आस्बिन की बॉडी का एग बंयनी नहीं है। अगर ये प्रदियूस नहीं होगा, जिसकी वज़े से प्रेग्नेंसी पॉसिबल नहीं हो पारें

मगर इन सब चीजों के इलाज हैं, तो अगर ये कोई बी चीज़ डिटेक्ट होती है आपकी बॉड़ी में तो आप इसका इलाज कराएं और उसके बार डेफिनेटली प्रेग्नेंसी पॉसिबल हैं तीसरा जो कारण है, वो है मेल्स या हस्बिंड में प्रॉब्लम होना

दोस्तों, 20-30% केसे में, हस्बिंड या मेल में प्रब्लिम होती है जिसकी वजह से प्रेगिनेंसी अचीव नहीं हो पारे है। इसके कोई भी सिंटम्स या कोई भी संकेत नहीं होते हैं। यानि कि अगर हास्बिन में कोई भी प्राब्लेम हैं,

तो उसका कोई भी संकेत नहीं विलेगा आपको। उसके लिए आपको डॉक्टर के पास जाके सिमन अनालिसिस कराना होगा और उसी से पता लग पाएगा कि स्पर्म की क्वालिटी और क्वांटिटी जो होनी चाहिए, वो है या नहीं, जिसकी वज़े से प्रेगनेंसी पॉसिबल नहीं हो पा रही है.

अगला कारण तो फिलोपियन टूब ब्लोकेज है जब फीमेल बॉडी में एग मैचूर होता है, यानि जब अणडा मैचूर होता है तो वो ओवरी से रिलीज होता है यानि कि अंडाशेस से रिलीज होता है,

और फिलोपियन टूब उसको अपने अंदर खीच लेती है और उसके बाद वो फिलोपियन टूब से होते हुए बच्चे दानी या फिर यूटरस में जाता है और जब स्पर्म फीमेल बॉडी में एंटर करता है तो वो नगीशव वें शिलल चीच में ही चीच जाता है

। ऐदा और gment बलता सके ाल में भी वीच रचे भी नगाना बच्चे और वीचल डिना आनर्वार संडर से, तो दोस्तों अगर फिलोपियन टूब की ब्लोकेज हे तो अंडा और स्पर्म आपस में मिल ही नहीं पाएंगे.यानि कि एग और स्पर्म आपस में नहीं मिल पाएंगे और फृटिलाइजेशन नहीं होगा तो उसकी वज़िसे भी प्रेगनेंशी पॉस्टबल नहीं हो पाती एक फीमेल बॉडी में दो फिलोपियन टूब होती है.

तो ये ब्लोकेज या तो एक फिलोपियन टूब या दो फिलोपियन टूब में भी हो सकती है तो अगर ब्लोकेज एक फिलोपियन टूब में है तो दवाईयां देकर दूसरे फिलोपियन टूब के थूँ प्रेगनेंशी अचीफ की जा सकती है.

लेकिन अगर जो ब्लोकेज है वो दोनों फिलोपियन टूब में है तो इसके लिए डौक्टर को सरजरी करनी पड़ती है और उसके बाद ही प्रेगनेंशी अचीफ की जा सकती है फिलोपियन टूब ब्लोक होने के क्या कारण हो सकते हैं पहला कारण हो सकता है PID

यानि की Pelvic Inflammatory Disease दूसरा कारण हो सकता है यानि की Sexually Transmitted Disease तीसरा कारण है यूटराइन Infection यानि की पास्ट में या पहले कभी कोई मिस कैरेज हुआ हो

या फिर कोई Abortion हुआ हो जिसकी वज़े से इंफेक्शन हुआ है उसके कारण से भी फिलोपियन टूब ब्लोक हो सकती है फिलोपियन टूब्स को ब्लॉक होने के कोई भी संकेत या कोई भी सिम्टम जादातर नहीं होते कभी कभी ऐसा हो सकता है कि पेल्विक रीजिन में या लोगर अब्डॉमिनल रीजिन में यानि कि पेट के निचले हिस्से में आपको दर्द महसूस हो सकता है जिसके वज़ेस से मालूम चल सकता है कि फिलोपियन टूब्स की ब्लॉकेज है मगर कभी कभी ऐसा नहीं भी होता इस चीज को पता करने के लिए डॉक्टर एचेस जी नाम का एक टेस्ट करते हैं जिसके लिए आपको डॉक्टर को दिखाना पड़ेगा.

और उसके बाद वो ये टेस्ट करेंगे और उसके बाद ही मालूम पड़ पाएगा कि फिलोपियन टूब्स की ब्लॉकेज है या नहीं अगला जो कारण है वो है एंडो मेट्रियोसिस जो यूट्रिस होता है या जो बच्चे दानी होती है उसके अंदर की जो लाइनिंग होती है वो होती है एंडो मेट्रियोसिस.

और अगर एंडो मेट्रियोसिस जैसी टिशू यूट्रिस के एलावा भी और जगापर ग्रोच करने लगे या उसके जैसी टिशू और जगापर भी बनने लग जाए तो उसके अंदर की जो लाइनिंग होती है उसके अंदर की जो लाइनिंग होती है उसके अंदर की जो लाइनिंग होती है उसके अंदर की जो लाइनिंग होती है उसके अंदर की जो लाइनिंग होती है उसके अंदर की जो लाइनिंग होती है उसके अंदर की जो लाइनिंग होती है उसके आपके अंदर की जो लाइनिंग होती है उसके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आपके आप प्रबादाईशी यह जो बच्चादानी है उसकी बनावट पैदाईशी ऐसी है कि जिसकी वज़े से प्रेगनेंट होने में प्रबलम्स आ रही है काफी हँट तक इसका भी ट्रीट्मेंट पॉसिबल है सर्जरी के त्रू इसको ठीक किया जा सकता है मगर इसके लिए आपक अपना गईय यर अवन मकन बना पहुले की प्रप्रैसि हि या थो जर्तब ऑनुएगे न किया प्रेंग्नंसी यह सहील डिन्ड competent अपना गारान से जिसकी वज़े से pregnancy achieved नहीं हो पाती या आप pregnant नहीं हो पाँा हो रहे हैं,

गर्भवती होने के लिए कुछ महत्वपूर्ण टिप्स हैं :

स्वस्थ आहार: पोषण से भरपूर और स्वस्थ आहार लें, विटामिन्स और मिनरल्स का सही सेवन करें।नियमित व्यायाम: नियमित रूप से व्यायाम करें, जैसे कि योग या व्यायाम रुटीन।नियमित मासिक धर्म: मासिक धर्म की समय पर आने का ध्यान रखें, जिससे ओव्यूलेशन के समय गर्भावस्था के अवसर बढ़े।स्ट्रेस कम करें: स्ट्रेस को कम करने के लिए ध्यान और योग का प्रयास करें।डॉक्टर की सलाह: आपके डॉक्टर से सलाह लें और उनके दिशानिर्देशों का पालन करें।यौन संबंध: ओव्यूलेशन के समय सेक्स करने से गर्भावस्था के अवसर बढ़ सकते हैं।स्वास्थ्य का ध्यान: डायटिंग की तरह नियमित डॉक्टर की जांच कराएं और स्वास्थ्य का ध्यान रखें।ध्यान दें कि हर किसी की शारीरिक और मानसिक स्थितियाँ अलग हो सकती हैं, इसलिए गर्भवती होने की प्रक्रिया व्यक्तिगत हो सकती है। अगर आपको समस्याएँ हैं, तो डॉक्टर से परामर्श लें।

तो I hope मेरी आचकी वल़ग आपको अच्छी लगी होगी helpful रही होगी आपके लिए अगर मेरी वल़ग आपको अच्छी लगी हो आपके लिए helpful रही हो तो please मेरे वल़ग को like और share ज़रूर करेगा मेरे चानल को सब्सक्राइब कर लीज़े नीचे जो रेट बटन है, सब्सक्राइब वाला उसको प्रेस कर दीजे

उसको जब आप प्रेस करेंगे तो एक बेल बटन आएगा उसको भी आप क्लिक ज़रूर कर दीजे ताकि मेरी सारी विडियो आप सबसे पहले देख सकें और मेरी सारी विडियो का आपके पास नोटिफिकेशन आए मेरी कोई भी विडियो आप मिस्स नहीं करें तो लेकर आती हूं मैं आपके लिए अगली बार भी एक ऐसी ही यूस्फल विडियो

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *